Interim Budget 2019 Live Updates:- At present, Finance Minister Arun Jetly is on leave now, and then this budget can be presented by Piyush Goyal. This will be their first budget. However, he has been holding the interim charge of the Finance Ministry for the second time. Piyush Goyal will start reading the budget speech from 11 AM in Parliament. As soon as we begin, all important announcements, analyzes and budgets of 2019 will be curtailed. So let us also make a Budget 2019 and tell you what is going to happen in the Modi government now and what can be important to you. For its complete information,

You have to be updated with us as well as visit this page. All new gadgets will be easily available on this. All information of Budget 2019 is being given below. Finance Minister Piyush Goyal is going to present the sixth and final budget of the National Democratic Alliance (NDA). All eyes have been booked on the interim budget. Two things can be prominent in the budget, which can be areas of income tax and farm package.

Since this is an interim budget. It has a lot of hope for the people that the government should bring something new to them. Although there is hope for any major change in the market observer, but the government can provide some relief in the demand of tax for the middle class people by raising the income tax rebate slab or by raising the deduction. It may also be that the government can come up with schemes for farmers and relief package for the distressed farmers. Regarding this, there is already a situation of pressure in the government. According to a report, Modi Government is likely to increase its rural welfare expenditure by 16% to woo farmers, which is likely to come before Lok Sabha elections.

An interim budget is that which covers the period as long as the new government does not come fully. It is still sceptical whether the government sees this budget as an interim and full budget. But if the minds of the sources are that this can be an interim and complete budget in a government. In the interim boom, especially all those aspects are counted, which can be completed by the government’s duration. Generally speaking, bigger announcements are not used.

Some Changes that You will See in Budget 2019: It takes about 5 to 7 months to prepare the central budget. The first budget was presented on the last working day of February, but in the year 2017, Finance Minister Arun Jaitley changed the date to February 1. Since then the budget is being presented on 1st February.

All the documents that make the budget complete are written in blue paper. This is kept in strict suit in a suitcase. The Finance Minister himself does not have the right to own this.

Before presenting the budget, there is a special ritual that is organized just before every budget. The government organizes Halwa Ceremonies through which the budget is given a green flag. Let the official printing of the budget documents begin in the basement of the Ministry of Finance a week ago. This pudding is divided by about 100 officers and employees on behalf of the Finance Minister.

  1. 34 करोड़ जन धन खाते खोले गए हैं।
  2. सरकार की योजना है अगले 5 साल में 1 लाख डिजिटल विलेज बनाएंगे। पिछले 5 साल 34 करोड़ जनधन अकाउंट खुले हैं।
  3. मोबाइल डेटा का इस्तेमाल पिछले 5 सालों में 5 गुना बढ़ा है।
  4. रेलवे के लिए 64,587 करोड़ रुपए दिए गए हैं।
  5. 3 लाख करोड़ रुपए देश की सुरक्षा के लिए दिए गए।
  6. राष्ट्रीय सुरक्षा को मजबूत करने के लिए सरकार काम कर रही है। हम ओआरओपी पर 35 हजार करोड़ खर्च चुके हैं।
  7. सरकार ने मौजूदा आरक्षण, जो एसटी एसटी और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए है, उसे बरकरार रखेगी। गरीबों के लिए शैक्षिण संस्थानों में और सरकारी नौकरी में 10 फीसदी का आरक्षण दिया गया है।
  8. एमएसएमई को 59 मिनट में 1 करोड़ रुपए का लोन मिलेगा।
  9. उज्जवला योजना के तहत दो करोड़ और मुक्त गैस कनेक्शन दिए जाएंगे।
  10. 10 करोड़ कर्मचारियों के लिए पेंशन योजना।
  11. पीएम श्रमयोगी मानधन योजना को मिली मंजूरी, 15 हजार रुपए प्रति माह कमाई वालों को मिलेगा योजना का लाभ।
  12. ऑर्गेनाइज्ड लेबर्स के लिए पेंशन स्कीम का ऐलान।
  13. स्कीम के लिए 500 करोड़ रुपए जरूरत पड़ने पर दिए जाएंगे।
  14. 10 करोड़ असंगठित कर्मचारियों को योजना का लाभ मिलेगा।
  15. वेतन आयोग की सिफारिशों को जल्द लागू किया जाएगा। 21 हजार सैलरी वाले मजदूरों को 7 हजार का बोनस मिलेगा।
  16. ग्रेच्यूटी की सीमा को 10 लाख से बढ़ाकर 20 लाख कर दिया गया है।
  17. पशुपालन के लिए किसान क्रेडिट कार्ड से कर्च मिलेगा
  18. श्रमिकों के वेतन में 42 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।
  19. किसान क्रेडिट कार्ड की अर्जी को सरल किया जाएगा
  20. 2 फीसदी ब्याज की छूट किसान क्रेडिट कार्ड के तहत अब एनिमल हसबेंडरी वाले किसानों को भी मिलेगी
  21. किसान योजना 1 दिसंबर 2018 से लागू होगी।
  22. राष्ट्रीय कामधेनु आयोग का एलान किया। गायों को लेकर ये आयोग काम करेगा।
  23. पीयूष गोयल ने 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का वादा दोहराया
  24. किसानों की दिक्कत दूर करने का काम इस सरकार ने किया है।
  25. मनरेगा के लिए साल 2019-20 में 60 हजार करोड़ रुपए का आवंटन
  26. 11 लाख 68 हजार करोड़ रुपए का फसली लोन दिया जा चुका है।
  27. 20 हजार करोड़ रुपए दिए जाएंगे।
  28. 2018 से लागू होगी स्कीम। जल्द ही किसानों के खाते में पहुंचेगी रकम।
  29. 2 हजार रुपए की किश्तों में मिलेगा पैसा। 100 फीसदी पैसा केंद्र सरकार देगी। 12 करोड़ किसानों को सीधा लाभ होगा।
  30. छोटे किसानों को इनकम सपोर्ट दिया जाएगा। 12 करोड़ किसान परिवार को इससे सीधा लाभ मिलेगा।
  31. पीएम किसान योजना के तहत 2 हेक्टेयर तक की जमीन है। उनको 6 हजार रुपए प्रति वर्ष डायरेक्ट इनकम सपोर्ट मिलेगा।
  32. सभी 22 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य लागत से 50 फीसदी अधिक निर्धारित किया है।
  33. पीयूष गोयलदेश में 21 एम्स काम कर रहे हैं, 14 की घोषणा हो साल 2014 के बाद हो चुकी है।
  34. आयुष्मान भारत योजना के तहत 50 करोड़ लोगों के इलाज की व्यवस्था है।
  35. गरीबों को सस्ता अनाज उपलब्ध कराने के लिए साल 2018-19 में 1,70,000 करोड़ रुए का खर्च किया गया है।
  36. 143 करोड़ एलईडी बल्ब दिए जा चुके हैं। जिससे बिजली का बिल कम हुआ है।
  37. आयुष्मान भारत योजना के तहत अब तक लाखों लोगों का इलाज हो चुका है।
  38. हमारी सरकार ने जो कहा वह पूरा किया। गांव के लोगों को शहर जैसी सेवा देने पर जोर दिया है।
  39. मार्च 2019 तक सभी इच्छुक लोगों को बिजली का कनेक्शन मिल जाएगा।
  40. गरीबों के लिए भी 10 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था की गई।
  41. वित्तमंत्रीलगभग45 लाख गांव खुले में शौच से मुक्त हुए हैं।
  42. सरकार बैंकों की स्तिथि मजबूत करने के लिए6 लाख करोड़ रुपए का निवेश किया गया।
  43. वित्तमंत्री ने कहाभारत विकास की पटरी पर दौड़ रहा है।
  44. आज बैंक कर्ज वसूल कर पा रहे हैं। जो पैसे नहीं दे रहे थे वह कर्ज चुका रहे हैं या फिर दूसरे काम कर रहे हैं।
  45. हमने भ्रष्टाचार के खिलाफ कदम उठाए हैं।
  46. हमने एनपीए कम करने पर जोर दिया, क्लिन बैंकिंग की दिशा में कदम उठाया है।
  47. पीयूष गोयलहम जीएसटी लेकर आए, साथ ही अन्य टैक्सों में भी सुधार किए हैं। पहले छोटे कारोबारी को ही टैक्स की चिंता होती थी, अब बडे़ कारोबारियों को भी इसकी चिंता होती है।
  48. पीयूष गोयलहमारी सरकार ने कमरतोड़ महंगाई की ही कमर तोड़ दी है।
  49. पीयूष गोयल ने कहावित्तीय घाटे को 6 फीसदी नीचे लाया गया है। वित्तीय घाटा अभी जीडीपी का5 फीसदी है।
  50. वित्तमंत्री पीयूष गोयल ने बजट भाषण पढ़ना शुरू किया।
  51. मनीष तिवारी ने कहा, ‘आज सुबह से सरकार के सुत्र मीडिया हाउस को बजट के प्वाइंटर भेज रहे हैं। अगर ये बातें वित्तमंत्री के भाषण में मौजूद रहीं, तो इसे एक लीक माना जाएगा। जो बजट सुरक्षा का बड़ा मुद्दा है।
  52. केंद्रीय कैबिनेट ने अंतरिम बजट 2019 को मंजूरी दे दी है।
  53. कुछ ही देर में अंतरिम वित्तमंत्री पीयूष गोयल संसद में बजट पेश करेंगे।
  54. बजट में किसानों को बड़ी सौगात मिल सकती है। इसके साथ ही रेलवे के लिए बड़ी घोषणा हो सकती है।
  55. नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, ‘सरकार इस बजट में लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए लोकलुभावन स्कीम पेश करेगी। जो बजट सरकार पेश करेगी वह जनता को लाभ नहीं पहुंचाएगा। आज केवल जुमला बाहर आएगा। उनके पास इन स्कीम को लागू करने के लिए सिर्फ 4 महीने ही होंगे।
  56. केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज, राजनाथ सिंह और रविशंकर प्रसाद संसद भवन पहुंच चुके हैं।
  57. कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने कहा, ‘पिछले पांच बजट किसानों को समर्पित थे, सरकार का छठा बजट भी किसानों के लिए ही होगा, बजट में उन्हें सशक्त बनाने पर बल दिया जाएगा।
  58. बजट 2019 से पहले शेयर मर्केट में तेजी बरकरार है। 55 की तेजी के साथ खुलने के बाद सेंसेक्स17 बजे 155 अंकों की बढ़त के साथ 36,408.13 अंक पर पहुंच गया है।
  59. बजट से पहले संसदीय बैठक के लिए वित्तमंत्री संसद भवन पहुंच चुके हैं।
  60. राज्य रेल मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा, ‘जिस तरह से सरकार ने सीसीटीवी कैमरा से लेकर वाईफाई तक के लिए रेलवे में निवेश बढ़ाया है, मैं उम्मीद करता हूं कि सरकार आगे भी रेलवे में निवेश बढ़ाती रहेगी।
  61. बजट ब्रीफकेस के साथ वित्तमंत्री अरुण जेटली संसद भवन पहुंच चुके हैं। 11 बजे वित्तमंत्री अंतरिम बजट 2019 पेश करेंगे।
  62. राष्ट्रपति की मंजूरी के बार वित्तमंत्री पीयूष गोयल बजट पेश करने के लिए संसद भवन को रवाना हो गए हैं।
  63. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अंतरिम बजट 2019 को मंजूरी दे दी है।
  64. सरकार इस बजट में यूनिवर्सल बेसिक इनकम या मिनिमम इनकम स्कीम का ऐलान कर सकती है। इसके तहत सभी नागरिकों को हर महीनें एक तय रकम प्रदान की जाएगी।
  65. संसद भवन में प्रिंटेड बजट की सुरक्षा जांच पूरी हो चुकी है।
  66. बजट पेश करने से पहले अंतरिम वित्तमंत्री पीयूष गोयल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगे।
  67. बजट की प्रिंटेड कॉपी की सुरक्षा जांच की जा रही है। जांच के बाद इसे लोकसभा में ले जाया जाएगा, जहां पीयूष गोयल इसे पेश करेंगे।
  68. आज सुबह 11 बजे अंतरिम वित्तमंत्री पीयूष गोयल बजट 2019 पेश लोकसभा में पेश करेंगे।
  69. संसदीय कार्य मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि सबका साथ सबका विकास हमारी सरकार का मूल मंत्र है, ये मंत्र अंतरिम बजट 2019 ने भी नजर आएगा।
  70. बजट से पहले शेयर मार्केट बढ़त के साथ खुला है। सेंसेक्स 55 अंकों की बढ़त और निफ्टी 20 अंकों की बढ़ के साथ खुला है। इससे पहले गुरुवार को भी सेंसेक्स बढ़त के साथ बंद हुआ था।
  71. सुबह 10 बजे बजट पर बैठक होगी, जहां अंतरिम बजट 2019 को कैबिनेट संसद में मंजूरी दी जाएगी।
  72. अंतरिम वित्तमंत्री पीयूष वित्त मंत्रालय पहुंच गए हैं। वहीं बजट 2019 से जुड़े सभी दस्तावेज संसद पहुंच चुके हैं। वित्तमंत्री 11 बजे बजट 2019 लोकसभा में पेश करेंगे।
  73. अंतरिम बजट से ठीक पहले वैश्विक रेटिंग एजेंसी फिच ने राजकोषीय लक्ष्य को लेकर चेतावनी जारी की है। एजेंसी ने कहा है कि यदि सरकार ने वोटरों को लुभाने के लिए लोकलुभावन घोषणाएं की तो राजकोषीय घाटे का दबाव बढ़ेगा। वह लगातार दूसरे साल अपने लक्ष्य से चूक जाएंगे।
  74. मार्च में पूंजी खर्च और बिल भुगतान के बावजूद उम्मीद है कि सरकार चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटे के बजटीय लक्ष्य3 फीसदी को पूरा कर लेगी।
  75. आजादी के बाद देश में अब तक 14 बार अंतरिम बजट पेश हो चुका है। आज 15वीं बार देश में अतंरिम बजट पेश होगा। इसे लेखानुदान बजट भी कहा जाता है जिसके तहत एक सीमीत समय के लिए जरूरी खर्चे के लिए बजट पेश कर ती है। एनडीए सरकार की तरफ से अंतिम बार 2004 में जसवंत सिंह ने बजट पेश किया था।
  76. चूंकि आज बजट पेश होना है। इसलिए शेयर मार्केट गुरुवार को बढ़त के साथ बंद हुआ है। गुरुवार को सेंसेक्स 36,257 के स्तर पर बंद हुआ। जबकि निफ्टी 179 अंक के उछाल के साथ 10,831 पर बंद हुआ।
  77. अंतरिम बजट के बाद चुनाव होने होते हैं, इसलिए सरकार इस बजट को चुनावी दांव मानती है। यूपीए-2 की ओर से साल 2014 में अंतरिम बजट पेश किया गया था। इस बजट में तत्कालीन वित्तमंत्री पी चिदंबरम ने बड़ा चुनावी दांव खेला था। उन्होंने महिलाओं से लेकर मध्यवर्ग और सैनिकों तक के लिए कई लुभावनी घोषणाएं की थी।
  78. वहीं यूपीए-1 के तत्कालीन वित्तमंत्री प्रणब मुखर्जी ने 2009 में अंतरिम बजट पेश किया था। इस बजट में फ्लैगशिप योजनाओं जैसे मनरेगा आदि का ऐलान किया गया था।